Adsense


 

--डिजिटल आणि सूक्ष्म श्रावण यंत्रांसाठी विश्वसनीय ठिकाण म्हणजे 'व्हिआर हीअरिंग'.. अधिक माहितीसाठी संपर्क :- 9657 588 677 @ www.vrhearingclinic.in




Dating Tips: कहते हैं रिश्‍ताेें की डोर काफी कच्‍ची होती है। लेकिन यह डोर एक बार बंध जाए, तो इसे तोड़ना भी आसान नहीं है। इसके लिए आपके रिश्‍तों में मजबूती होना बहुत जरूरी है। आइए हम आपको बताते हैैं मजबूत रिश्‍ते की नीव किन बातों पर


किसी रिश्‍ते को मजबूत बनाना इतना आसान नहीं है, लेकिन इतना मुश्किल भी नहीं है। कई बार आपको कितना अजीब लगता होगा, जब आपका पार्टनर आप पर शक करता हो, विश्‍वास न करता हो या आपसे झूट बोलता हो। यही वो बाते हैं, जो आपके रिश्‍ते को कमजोर बनाती हैं। जब किसी रिश्‍ते में ये सब बाते होती हैं, तो वह बिन पेंदे के लोटे के समान होता है, यानि किसी ने आपके या आपके पार्टनर के बारे में आप दोनों से कुछ झूट या गलत बोल दिया जाए, तो वो और आप उस पर विश्‍वास कर लेते हैं। जबकि जहां रिश्‍ते में मजबूती होती है, वहां इन बातों के लिए कोई जगह नहीं होती। जबकि अगर सचमुच आप दोनों में प्‍यार है और आप एक दूसरे को चाहते हैं, तो  आइए हम आपको बताते हैं कि आपको कैसे अपने रिश्‍ते को मजबूत बनाना है। यहां हम आपको 7 ऐसी बाते बता रहे हैं, जो एक मजबूत रिश्‍ते की नीव होती हैं।  

1 विश्वास 

विश्वास एक ऐसी चीज है, जो मां, भाई, बहन, दोस्‍त या फिर प्‍यार, हर रिश्‍ते की नीव है। क्‍योंकि जहां विश्‍वास है, वहां बड़ी-बड़ी आंधी रिश्‍तों को तोड. नहीं सकती। इसलिए आप विश्‍वास करना और निभाना सीखें। अपने पार्टनर पर विश्‍वास करें और खुद भी कोई ऐसा काम न करें, जो आपके बीच में दरार डाले। 

2 फिक्र या केयर करना सीखें

सही मायने में कहें, तो जहां प्यार होता है वहां एक-दूसरे का फिक्र होना भी जरूरी है.. यानि जहां आपके या आपके पार्टनर के साथ कोई न खड़ा हो, वहां आप उनके साथ हों।  क्‍योंकि अगर आप मुसीबत में अकेले ऐसे इंसान होंगे, जो उनके साथ खड़े होंगे, तो आपका प्‍यार और रिश्‍ता मजबूत होगा। 

3 ईमानदारी 

विश्‍वास की तरह ही ईमानदारी रिश्‍ते को बनाए रखने की दूसरी बड़ी मजबूत डोर होती है। कहते हैं न, दुनियां में सबसे महंगी चीज अगर कोई है तो वह है, विश्‍वास और ईमानदारी। अगर आप चाहते हैं कि आपका पार्टनर आपके साथ लॉयल रहे, तो आप भी लॉयल रहना सीखें।  सच्चाई और ईमानदारी से रिश्ता निभाएं। 

4 आदर और सम्‍मान

अगर आप किसी को आदर-सम्‍मान देंगे, तो बदले में पाएंगे भी। ऐसे ही यदि आप अपने साथी को प्‍यार के साथ सम्‍मान देगें, तो वह भी आपको सम्‍मान देगा। अगर आप ये सोचते हैं कि आप जो मर्जी करें, लेकिन आपको रिस्‍पेक्‍ट मिले, तो यह संभव नहीं होता। क्‍योंकि हर किसी को अपना आत्मसम्मान प्यारा होता है। अगर आप दूसरे को बार-बार नीचा दिखाते हैं या सम्‍मान नहीं देते, तो आपके रिश्‍ते मे लड़ाईयां होती हैं और रिश्‍ता कमजोर पड़ता है। 

5 खुशी और गम बांटना

आप अगर अपने सुख-दुख एक दूसरे के साथ बांटते हैं, तो आपका रिश्‍ता मजबूत होता है। ऐसे में आप दोनों एक-दूसरे को बेहतर ढंग से समझ पाते हैं। इसके अलावा, दूसरी जरूरी बात हमेशा ध्‍यान में रखें, किसी भी रिलेशनशिप में लंबे समय तक लड़ाई न हो। क्‍योंकि जहां खुशी महसूस नहीं हो, वहां रिश्ते का लंबे समय तक चलना भी मुश्किल हो जाएगा। इसलिए लड़ाईयों को जितनी जल्‍दी हो सके सुलझा लेना ही बेहतर है। 

6 समझौता

रिश्‍ते की ढोर को बांधे रखने वाली एक कड़ी है समझौता। माना कि जिंदगी में चीजों से समझौता करना मुश्किल है, लेकिन जब बात घर-परिवार या प्‍यार की है, तो आपको अपने रूल बदलने पड़ते हैं। कभी-कभी आपको एक दूसरे के लिए कुछ समझौते कर लेने चाहिए। क्‍योंकि जहां आप अपनी जिद पर रहते हैं, वहां रिश्‍तो में टकरार होना तय है।  

सुरक्षा और आजादी 

सुरक्षा और आजादी ये दो चीजें ऐसी हैं, जहां भले ही प्‍यार में विश्‍वास, ईमानदारी और सम्‍मान हो, लेकिन ये दोनों चीजें न हों, तो रिश्‍ता टूट सकता है। क्‍योंकि जिस रिश्‍ते में आप सेफ फील नहीं करते या आप पर हद से ज्‍यादा बंदिशें हो, वो रिश्‍ता टिक नहीं पाता। इसलिए आप अपने पार्टनर को सेफ फील कराएं और उन्हें उनकी तरह से जीने और रहने की आजादी दें। 

 




टिप्पणी पोस्ट करा

Previous Post Next Post