Adsense


 

--डिजिटल आणि सूक्ष्म श्रावण यंत्रांसाठी विश्वसनीय ठिकाण म्हणजे 'व्हिआर हीअरिंग'.. अधिक माहितीसाठी संपर्क :- 9657 588 677 @ www.vrhearingclinic.in



मानसिक रूप से मजबूत बनना कौन नहीं चाहता, सब चाहते है की वो अंदर से मजबूत हो और हर मुसीबत का सामना करने में सक्षम हो। इसका मतलब यह नहीं है की आप बाकियों से बेहतर हो बल्कि इसका सही मतलब है की आप हर मुसीबत का सामना करने के लिए तैयार हो, यहां मैं खुद को मानसिक रूप से मजबूत बनाने के 10 तरीके बता रहा हु।
इस बात में कोई शक नहीं है की तेज दिमाग वाले लोग दमदार होते है इस टाइप के लोग हर समस्या को बड़ी आसानी से समझ जाते है। सामान्य व्यक्ति और बुद्धिमान व्यक्ति में जमीन आसमान का फर्क होता है इसका अंदाजा उनके विचार, गतिविधियों और काम करने के तरीके से लगता हैं।
मानसिक रूप से मजबूत बनना एक दिन में होने वाला काम नहीं है यदि आप अपने किसी कार्य, व्यापार में सफलता प्राप्त करना चाहते है तो अपने आप को मानसिक रूप से मजबूत बनाना आवश्यक है अगर आप अंदर से मजबूत है तो आप हर मुसीबत का सामना कर सकते हैं।
यहां आपको आसान भाषा में कुछ उपयोगी तरीके बता रहा हु जो आपको मानसिक रूप से मजबूत बना सकते है।




मानसिक रूप से मजबूत कैसे बनें

1. मानसिक रूप से मजबूत लोगों के पास शक्ति होती है
जो व्यक्ति मानसिक रूप से मजबूत होते है वो कभी किसी मामलें पर गुस्सा नहीं करते, वो अपनी भावनाओं पर पूरा नियंत्रण रखते है।
अगर कोई बुरा भला कहता है तो वो उसे नजरअंदाज कर देते है क्योकिं वो समझते है की ऐसे लोगों के मुंह लगने से समस्या कम की बजाय ज्यादा होती है।
यदि आप अपने आप पर और अपनी भावनाओं पर नियंत्रण रख सकते है साथ ही नकारात्मक स्थिति होने पर कैसी प्रतिक्रिया देते हो, इसी से पता चलता है की आप मानसिक रूप से कितने मजबूत है।
2. मानसिक रूप से मजबूत व्यक्ति अपनी गलतीयों पर अफसोस नहीं करते
मानसिक रूप से मजबूत लोग अपने गलतियों पर अफसोस करने के लिए समय खराब नहीं करते, मतलब वो सब कुछ छोड़कर खुद को खेद नहीं देते है।
बल्कि वो गलती होने पर उसका कारण पता करने और उस काम को फिर से शुरू करने में लग जाते है क्योंकि उन्हें पता होता है की गलती करना ही सफल होना सिखाता है।
वो अपनी गलतीयों को सभांलना जानते है इसीलिए ऐसे लोग कभी भी अपने आप को खेद नहीं पहुंचाते है और ना ही वो निराश हो कर अपना काम बंद करता है।
3. मानसिक रूप से मजबूत लोग बदलाव पसंद करते है
बुद्धिमान व्यक्ति हमेशा परिवर्तन पसंद करते है और उनका स्वागत करते है क्योंकि ऐसे लोगों को बदलाव पसंद होता है वो हमेशा कुछ नया करना और जानना चाहते है।
मानसिक रूप से मजबूत लोग बदलाव पर विश्वास करते है ऐसे लोग सिर्फ खुद को ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में परिवर्तन देखना पसंद करते है।

4. मानसिक रूप से मजबूत लोग अपना काम खुद करना पसंद करते है
ऐसे लोगों की सबसे अच्छी खासियत यह होती है की अपना काम खुद करना पसंद करते है वो कभी किसी के सामने हाथ नहीं फैलाते क्योंकि वो अपने फिल्ड को बारीकी से समझना चाहते है जिससे उन्हें आने वाले समय में दिक्कतें ना हो।
उदाहारण, यदि आप किसी और से वेबसाइट बनवाओगे और कल उसमें कोई समस्या हो गई तो आपको फिर से किसी ना किसी वेबसाइट बनाने वाले आदमी से मदद के लिए हाथ फैलाना पड़ेगा।
इसीलिए अब आप समझ सकते है की अपना काम खुद करने से आपको कितना फायदा है एक काम करने में आपको और भी बहुत सारी जानकारी मिल जाती है।
5. मानसिक रूप से मजबूत व्यक्ति अपनी गलतियों से सीखते है
अपनी गलतीयों से नया सीखना अच्छे इंसान की पहचान होती है मानसिक रूप से स्ट्रोंग लोग हमेशा अपनी गलतियों को याद रख कर उनसे कुछ ना कुछ नया सीखना चाहते है।

हालाँकि बहुत सी बातें ऐसी होती है जिन्हें याद रखना आसान नहीं है पर इस टाइप के लोग अपनी गलतीयों को कभी नहीं भूलते ताकि वो आगे ऐसी गलती ना कर सके।
6. मानसिक रूप से मजबूत लोग अतीत में नहीं रहते
आने वाले समय को बेहतर बनाने के बारे में ना सोचना होशियार लोग बिलकुल पसंद नहीं करते, वो अपने भविष्य को अतीत से नहीं जोड़ते बल्कि उसे और बेहतर बनाने के बारे में सोचते है।
मानसिक रूप से मजबूत व्यक्ति अपने अतीत के बारे में सोच कर ना जीने वाला नहीं होता, वो अपने आज में जीता है और कल को बेहतर बनाने के लिए प्लान बनाता है।
7. मानसिक रूप से मजबूत लोग दूसरों की सफलता से जलते नहीं है
ऐसे लोग कभी भी किसी अन्य सफल लोगों से जलते नहीं है बल्कि वो उसके काम को देख कर खुद उसकी तरह बनना चाहते है साथ ही वो उनके काम का मजा लेते है और उनसे अच्छे संबंध बनाना चाहते है।
यहां तक की ऐसे लोग उन्हें अपने जीवन की घटनाओं में आमंत्रित भी करते है और उनसे मिलकर अपने जीवन को और बेहतर बनाने की कोशिश करते है।
8. मानसिक रूप से मजबूत लोग खुद को अकेला महसूस नहीं करते है
यह सच है की मानसिक रूप से मजबूत लोगों के पास समय कम और काम ज्यादा होता है वो चाहे किसी भी जगह पर हो कभी अकेला नहीं समझते क्योंकि उनके साथ उनकी कंपनी और फैन हमेशा रहते है।
यदि आप कही सुन सान जगह पर अपने आप को अकेला महसूस कर रहे हो तो समझो आप मानसिक रूप से मजबूत नहीं है क्योंकि ऐसे लोग किसी भी जगह पर खुद को खुश रखने की शक्ति रखते है उनके दिमाग में हमेशा कुछ ना कुछ चलता रहता है।
9. मानसिक रूप से मजबूत लोग घमंड नहीं करते है
मानसिक रूप से मजबूत लोग खुद को बड़ा नहीं समझते और उन्हें दुनिया बेहतर मानती है और ना ही वो अपने से छोटे लोगों पर हँसते है मतलब ऐसे लोग कभी घमंड नहीं करते, वो खुद से बडें लोगों को देखते है और उनसे आगे निकलना चाहते है।
यकीन मानिए आप चाहे किसी भी मुकाम पर क्यों ना हो एक बार नजर करोगे तो इस दुनिया में आप से बडें लोग बहुत दिख जायेंगे इसलिए अपने से छोटे लोगों पर हँसना छोड़कर अपने से बडें लोगों को फॉलो करो।
10. मानसिक रूप से मजबूत व्यक्ति को पैसो से नहीं कामयाबी से प्यार होता है
सही दिमाग वाला आदमी हमेशा कामयाब होना चाहते है उसे पैसो से प्यार नहीं होता वो सिर्फ दुनिया को कुछ बेहतर करके दिखाना चाहता है जिससे दुनिया उसे मरने के बाद भी याद करें, उनकी नजर में पैसा सब कुछ नहीं होता।
पैसा आपको सिर्फ सामने से ऊँचा दिखा सकता है पीछे से लोग आपको बुरा भला ही कहेंगे, इज्ज़त, लोगो का प्यार, शोहरत, अच्छा काम और कामयाबी ही आपके साथ हमेशा रहेगी जिससे दुनिया आपको जन्म जन्म तक याद रखेगी।
मानसिक रूप से मजबूत लोगों की आदतें
  1. ऐसे व्यक्ति कभी निराश, उदास नहीं रहते।
  2. वे अपनी गलतियों से भी सीखते है।
  3. मानसिक रूप से मजबूत व्यक्ति किसी की सफलता से जलते नहीं है।
  4. ऐसे व्यक्ति कभी भी हार नहीं मानते।
  5. मेंटली स्ट्रोंग लोगों को सफलता पाने के लिए किसी की मदद की जरुरत नहीं पड़ती।
  6. मानसिक रूप से स्ट्रोंग व्यक्ति बिना सोचें जोखिम नहीं उठाते।
  7. वे कड़ी मेहनत करके सफलता प्राप्त करना चाहते हैं।
  8. ऐसे इंसान दुसरों की कामयाबी को सम्मान देते है।
  9. मानसिक रूप से मजबूत व्यक्ति एक गलती को दोहराते नहीं है।
  10. ऐसे लोग सकारात्मक सोच रखते है।
उम्मीद करता हु आपको इस पोस्ट में खुद को मानसिक रूप से मजबूत बनाने के बढ़िया तरीके और उपयोगी जानकारी मिलेगी और आप इन्हें फॉलो करके अपने जीवन में बदलाव ला सकते है।
साथ ही आपसे जलने वाले लोगों को नजरअंदाज करके उन लोगों पर ध्यान दो जो आपसे प्यार करते है उनके लिए कुछ अच्छा करो, कभी मत सोचो की आपसे जलने वालो को सबक सिखाया जाए बल्कि सोचो की ऐसा क्या किया जाए जो वो आपके दोस्त बन जाए।



टिप्पणी पोस्ट करा

Previous Post Next Post